सच हम नहीं, सच तुम नहीं, सच है महज संघर्ष ही!

शुक्रवार, जून 11, 2010

सनसनी से घट जाएगी ब्लॉग की विश्वसनीयता! कायम

शेर है,
दहाड़ है,

हाथी है,
चिंघाड़ है,

सियार है,
चालबाजी है,

कुत्ता है,
दूम है,

बारूद है,
बम है,

विस्फोट है,
खून है,

मौत है,
मातम है,

समाचार है,
विचार है,

चिटठा है,
पोस्ट है,

सनसनी है,
पाठक हैं,

टिप्पणी है,
लोकप्रियता है,

फोटू है,
अखबार है,

और इन सबसे
ऊपर ब्लॉग लेखन
की विश्वसनीयता है!

जो कायम है...

7 टिप्‍पणियां:

  1. Jamini hakikat.Sab kuchh ko lapet liya aapne. Kya kahu.Shabd nahi hain.Aap kvita likhte rahiye. Dhoomil, pash,Gorakh pandey shaili.Sadhuvad.

    उत्तर देंहटाएं
  2. पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    और सिर्फ
    पूर्वाग्रह

    उत्तर देंहटाएं
  3. पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    पूर्वाग्रह
    और सिर्फ
    पूर्वाग्रह

    उत्तर देंहटाएं
  4. नमस्ते,

    आपका बलोग पढकर अच्चा लगा । आपके चिट्ठों को इंडलि में शामिल करने से अन्य कयी चिट्ठाकारों के सम्पर्क में आने की सम्भावना ज़्यादा हैं । एक बार इंडलि देखने से आपको भी यकीन हो जायेगा ।

    उत्तर देंहटाएं