सच हम नहीं, सच तुम नहीं, सच है महज संघर्ष ही!

शुक्रवार, सितंबर 13, 2013

रोटी और वोट!

एक चौथाई रोटी खायेंगे, कांग्रेस को जिताएंगे,
राहुल बाबा की खातिर अंतड़ी/पेट को सुखायेंगे,
ज्यादा हुआ तो हवा पियेंगे और पानी खायेंगे.



Bookmark and Share

3 टिप्‍पणियां:

  1. सभी पाठकों को हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल परिवार की ओर से हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ… आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी पोस्ट हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल में शामिल की गयी और आप की इस प्रविष्टि की चर्चा {रविवार} 15/09/2013 को ज़िन्दगी एक संघर्ष ..... - हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल - अंकः005 पर लिंक की गयी है , ताकि अधिक से अधिक लोग आपकी रचना पढ़ सकें। कृपया आप भी पधारें, आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | सादर ....ललित चाहार

    उत्तर देंहटाएं
  2. कांग्रेस जीती तो पक्का यही हाल।

    उत्तर देंहटाएं