सच हम नहीं, सच तुम नहीं, सच है महज संघर्ष ही!

सोमवार, अगस्त 10, 2009

एक मिलियन डॉलर जीतने के बाद बधाइयों का ताँता..

मेरे एक मिलियन डॉलर जीतने के बाद ब्लौगरों ने मुझे कुछ इस तरह बधाई दिया था...

दरअसल , मैंने ये बात ब्लौगिस्तान को बताई थी...आपको अभी पता चल रहा है तो नाराज़ नही होंगे..इस लिंक पर क्लिक करेंगे और इस अद्भुत जानकारी का लुत्फ़ उठाएंगे...

लिंक : मै एक मिलियन डॉलर जीत गया..

फिलहाल पेश है मेरे अजीज / खास शुभचिंतको/बधाई देने वालों की यह सूची और उनका बधाई पत्र...

पहला बधाई पत्र
Vivek Rastogi ने कहा…
अगर लुटने से बचना चाहते हैं तो अभी सबसे पहले वह ईमेल चुपचाप से डिलीट कर दीजिये।

अन्य बधाई...

विभाव ने कहा…
विवेक जी ने सही कहा है। डिलीट करने के बाद सभी परिचितों को भी इससे सावधान कीजिए। वरना...............गए बाबू काम से।

मसिजीवी ने कहा…
ऐसी हर मेल के पचास पैसे भी मिलते तो अब तक करोड़पति हो जाते...दिखते ही रिपोर्ट स्‍पैम किया
जाए

राजीव तनेजा ने कहा…
ऐसी दर्जनों मेल तो मेरे पास भी आ चुकी हैँ...अगर नुकसान से बचना चाहते हैँ तो इन्हें चुपचाप डिलीट कर दिया करें


Udan Tashtari ने कहा…
ईमेल में देखना एक डिलिट बटन होता है, वो इसी के लिए बनाना पड़ा. :)


शरद कोकास ने कहा…
यह सब फर्ज़ी है देश मे लाखो लोग इसमे फंसे है आप चाहे तो साईबर क्राईम के तहत पुलिस मे इसकी रिपोर्ट कर दे ।ऐसे लोगों तक पहुंचने मे मदद मिलेगी


Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" ने कहा…
ऎसे मिलियन/बिलियन डालर तो हम भी हर रोज जीतते हैं:)


Arvind Mishra ने कहा…
मुझे भी आज मिला है मोबाईल sms और पहले भी अनेक ईमेल आये हैं -मगर मैं अपनी मुफलिसी में ही खुश हूँ ! कोई करोड़पति बन जाए अपनी बला से !


Shyam Verma ने कहा…
Nobody distribute money freely, take care in whole life. We should earn through our efforts rather then wishing to get huge free money.थैंक्स


अरूण अरोरा ने कहा…
ये सब आपको अमीर बनते नही देखना चाहते । फ़ोरन उस भाई से बात करो और खुद पैसे लेने पहुच जाओ . समीर भाई को हिस्सेदार बना लेना परदेश मे मदद भी मिल जायेगी


वीरेन्द्र जैन ने कहा…
aashcharya hai ki log ab bhi isase murkh ban jate hain . sniye-DUNIA MEN KABHI KUCHH BHI MUFT NAHIN MILATA. HO SAKTA HAI KI APAKO TAATKALIK RUP SE USAKI KEEMAT SAMJH MEN NAHIN AA RAHI ho


mahashakti ने कहा…
बढि़या है किसी को फारवर्ड मत कीजिए


अर्शिया अली ने कहा…
Badhaayi।


रंजन ने कहा…
आप ट्राई करें.. सफल हो तो हमें बताये.. हमारे पास रोज ढेरो इमेल एसे आते है.. और लोग कहते है कि फर्जी होते है.. पर एक भी अनुभवी नहीं है.. क्या सोच रहे है?


दुःख की बात ये है कि मैंने इतने बधाइयों के वावजूद इस एक मिलियन डॉलर की राशि को स्वीकार नही किया...इसके लिए मै इन सभी ब्लौगरों से खेद व्यक्त करता हूँ....

और सभी को आभार भी....

2 टिप्‍पणियां:

  1. badhai ka silsila to jari rahega magar aapne wo dili kiya ki nahi mere dost ne aapko bataya hi tha ki deleat button hota hi is liye hi plz deleat laro .....aapne bahut acha kiya ki aapne ani post me likha bahut pahle muje aaya tha maine deleat button ka sadupyog kiya tha

    ---- eksacchai

    {AAWAZ}

    http://eksacchai.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  2. हमें भी आपसे पूर्ण सहानुभूति है कि आप करोडपति बनने के इतने अच्छे मौके से चूक गये:)
    भाग्य बार बार द्वार नहीं खटखटाता:)

    उत्तर देंहटाएं