सच हम नहीं, सच तुम नहीं, सच है महज संघर्ष ही!

मंगलवार, जून 08, 2010

नीतीश कुमार का ब्लॉग लेखन ठन्डे बस्ते में...

आज घूम रहा था ऐसे ही। फिर मूड हुआ आज घूमने चलते हैं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ब्लॉग पर। नीतीश कुमार के लेख पर सैकड़ो प्रतिक्रियाएं , राय, सुझाव, बधाई। इसे नीतीश कुमार ने खुद महसूस भी किया है..उन्ही के शब्द:
------------
सप्ताह भर में सैकड़ो रेपोंस के जरिये व्यक्त किये गए आपके टिप्पणीकार विचार न केवल सराहनीय है , बल्कि मेरे लिए बेहद अहम् हैं।
- नीतीश कुमार
------------------
पर विडम्बना..अप्रैल के बाद उनके ब्लॉग पर कोई नया पोस्ट नही...विश्वास यात्रा का कोई जिक्र नही..अब सवाल यह उठता है कि जब नीतीश कुमार के लिए ब्लॉग पर पाठको के रेस्पोंस अहम् है तो फिर क्यों नीतीश कुमार ठन्डे पड़े हैं? कम से कम रात में ही समय निकाल एक-आध घंटे बिहार की जनता के लिए ब्लॉग पर लेख पोस्ट करते...ब्लॉग से संवाद करके नीतीश कुमार कुछ जनता के बीच में जा सकते हैं और अपने नए बिहार का हाल जान सकते हैं.. ...नीतीश जी से अपील है कि आप ब्लॉग लेखन जारी रखे....मुझे उम्मीद है ब्लॉग जगत के अधिकतर लोग उनके ब्लॉग को पढना चाहते हैं..सो सभी ब्लॉग लेखको से प्रश्न है क़ि आप क्या चाहते हैं?

14 टिप्‍पणियां:

  1. भैया जनता के बिच रहना हर किसी के बूते की बात नहीं तभी तो ये मंत्री लोग अब सिर्फ दिखावा करते है जनता की समस्याओं के समाधान का और असल में कुर्सी के लोभ-लालच में ये एक शब्द भी सत्य और न्याय का नहीं बोल पाते है तो ब्लॉग पर क्या लिखेंगे ?

    उत्तर देंहटाएं
  2. राजनीति में 5 साल से पहले कुछ नहीं करने का रिवाज है

    उत्तर देंहटाएं
  3. वो नीतिश की एक भूल थी ! खैर , नीतीश तो अभी काफी व्यस्त हैं -

    उत्तर देंहटाएं
  4. ये ब्लॉग व्लोग लिखना नेताओ का काम नहीं है..

    जय हो..

    उत्तर देंहटाएं
  5. वैसे उनकी जगह आजकल अडवानी जी ने लिखना शुरू किया है...नजर मारे...

    उत्तर देंहटाएं
  6. नितीश कुमार की व्यस्तता को देखते हुए चलिए उन्हें क्षमा कर दिया जाए ब्लॉग न लिख पाने के लिए। उम्मीद लगी रहे कि आगे वो ब्लॉग लेखन जारी रखेंगे।
    अच्छा एक छोटी सी बात जननी थी, मदद करेंगे तो अच्छा लगेगा। मोहल्ला ब्लॉग से जुड़ने के लिए क्या करना होगा???

    उत्तर देंहटाएं
  7. Ashu sahab, Avinash ji ne khud lekhak ke taur pr mujhe mohalla pr invite kiya tha...waise sampark kariye avinashonly@gmail.com pr.

    उत्तर देंहटाएं
  8. Nitishjee is very busy person,he is the captain of a wrenched ship. You can not expect a regular post from him.what he does for the betterment of Bihar is more relevant than writing a Blog.

    plz dont rake such petty issue

    उत्तर देंहटाएं
  9. Madhav only work is not good for anyone..to get proper feedback on behalf of such work matters..if you don't mind i am not making it issue..its just an appeal to honourable CM.

    उत्तर देंहटाएं
  10. भ्रष्टाचार एवं अत्याचार अन्वेषण संस्थान (बास) की सदस्यता हेतु आमंत्रण!

    आज हमारे देश में जिन लोगों के हाथ में सत्ता है, उनमें से अधिकतर का सच्चाई, ईमानदारी, इंसाफ आदि से दूर का भी नाता नहीं है।
    अधिकतर तो भ्रष्टाचार के दलदल में अन्दर तक धंसे हुए हैं, जो अपराधियों को संरक्षण भी देते हैं।

    इसका दु:खद दुष्परिणाम ये है कि ताकतवर लोग जब चाहें, जैसे चाहें देश के मान-सम्मान, कानून, व्यवस्था और संविधान के साथ बलात्कार करके चलते बनते हैं और किसी को सजा भी नहीं होती। जबकि बच्चे की भूख मिटाने हेतु रोटी चुराने वाली अनेक माताएँ जेलों में बन्द हैं। इन भ्रष्ट एवं अत्याचारियों के खिलाफ यदि कोई आम व्यक्ति, ईमानदार अफसर या कर्मचारी आवाज उठाना चाहे, तो उसे तरह-तरह से प्रताड़ित एवं अपमानित किया जाता है और पूरी व्यवस्था अंधी, बहरी और गूंगी बनी रहती है।

    यदि ऐसा ही चलता रहा तो आज नहीं तो कल, हर आम व्यक्ति को इन आतताईयों का शिकार होना ही होगा। तब आम व्यक्ति की रक्षा करने वाला कोई नहीं होगा!

    ऐसे हालात में आम व्यक्ति के पास केवल दो रास्ते हैं-
    1- या तो हम आतताईयों के जोर-जुल्म को चुपचाप सहते रहें! या
    2- समाज के सभी अच्छे, सच्चे, देशभक्त, ईमानदार और न्यायप्रिय लोग एकजुट हो जायें!

    क्योंकि लोकतान्त्रिक व्यवस्था में आम लोगों की समर्पित, संगठित तथा एकजुट ताकत के आगे झुकना नौकरशाही और सत्ता की मजबूरी है।

    इसी पवित्र इरादे से भ्रष्टाचार एवं अत्याचार अन्वेषण संस्थान (बास) की आजीवन सदस्यता का आमंत्रण आज आपके समक्ष प्रस्तुत है।
    निर्णय आपको करना है!
    यदि आप सदस्यता ग्रहण करने के इच्छुक हैं तो अपनी पात्रता जांचने के लिये, नीचे दिये लिंक पर क्लिक करें :-

    http://baasindia.blogspot.com/
    Mob . : 09828502666

    उत्तर देंहटाएं